प्रेरणादायक सुविचार(Part-10)

Hindi Motivational Quotes 

 

यह आवश्यक नहीं कि हर लड़ाई जीती ही जाए। आवश्यक तो यह है कि हर हार से कुछ सीखा जाए. Hindi Motivational Quotes – हिन्दी सुविचार

धैर्य-सुविचार

यदि आप गुस्से के एक क्षण में धैर्य रखते हैं, तो आप दु:ख के सौ दिन से बच जाएंगे.

नेक इंसान-सुविचार

नेक इंसान बनने के लिए वैसी ही कोशिश करो, जैसे खूबसूरत दिखने के लिए करते हो.

Hindi Motivational Quotes – हिन्दी सुविचार

 

 

खुश रहना है-सुविचार

खुश रहना है तो अधिक ध्यान उस चीज पर दें, जो आपके पास है, उस पर नहीं जो आपके पास नहीं है.

समझ-सुविचार

एक मुँह और दो कान का अर्थ है कि हम अगर एक बात बोलें तो कम से कम दो बात सुनें भी.

सुभाषित सुविचार

आप कितने भी परेशान क्यों न हो, लेकिन किसी अपने को परेशान देखकर यह जरूर कहें, “चिन्ता मत करो.. “मैं हूँ ना ।” ये तीन शब्द जीवन में ऊर्जा भर देंगे!

ईश्वर से क्या मांगे सुविचार

ईश्वर से कुछ मांगने पर न मिले तो उससे नाराज मत होना। क्योंकि ईश्वर वह नहीं देता जो आपको अच्छा लगता है। बल्कि वह देता है जो आपके लिए अच्छा होता है।

प्रकृति सुविचार

जब तालाब भरता है तब मछलियाँ चीटियों को खाती हैं और जब तालाब सूखने लगता है तब चीटियाँ मछलियों को खाती हैं.. यानि प्रकृति सभी को कभी न कभी मौका जरूर देती है बस अपनी बारी का इंतजार करो.

आज का सुविचार

जीवन का सबसे बड़ा अपराध – किसी की आँख में आंसू होना ……आपकी वजह से, और जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि – किसी की आँख में आंसू होना ……आपके लिए.

Visit this post on Indiblogger.in network.

Dear Friends, अगर आपको प्रेरणादायक सुविचारों(Motivational Quotes in Hindi) की ये पोस्ट पसंद आई हो तो आप अपनी सोच और सुझाव हम तक कमेन्ट के माध्यम से जरुर पहुंचायें. इसे अपने Facebook Friends और अपने चाहने वालों तक जरुर शेयर करें. जल्दी ही एक नई कहानी या article के साथ आपसे फिर मुलाकात होगी. आप इस साईट पर सुविचारों की सभी पोस्टें एक साथ देखना चाहें तो इस लिंक पर क्लिक करें.

 

 

 

HindiSuccess के नए पोस्ट की जानकारी ई-मेल पर पायें

4 thoughts on “प्रेरणादायक सुविचार(Part-10)”

  1. भाई साहब, आज आपने मेरा दिल खुश कर दिया। क्या खूब विचार प्रस्तुत किया है। कि जरूरी नहीं कि हर लड़ाई को जीता जाए। कभी कभी कुछ हार से क्यों न सीखा जाए। मैं इस विचार को वास्तव में अपने जीवन में उतारने जा रहा हूं। यह मेरी वैचारिक स्थिति से बहुत मेल खाता है।
    भाई, मैं जल्द ही आपकी मेल आई डी पर अपना मोबाइल नंबर दूंगा। आपसे बातचीत होते रहना भी जरूरी है। आजकल यू सी न्यूज भी कुछ स्लो है। आपको क्या लगता है। मेल आई डी पर बताइएगा।

  2. आदरणीय जमशेद जी, आपकी हर प्रतिक्रिया काबिले तारीफ ही होती है. आप मेरा ब्लॉग पढते हैं इसे मैं अपना सौभाग्य मानता हूँ.

    आप अपना मोबाइल नंबर जल्दी दें ताकि आपसे संवाद होने लगे. आपकी पोस्ट भी बहुत अच्छी होती हैं.
    आपकी तारीफ़ के लिए शुक्रिया.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *