दोस्ती पर अनमोल विचार- Quotes About Friendship

मित्रता पर उद्धरण वाक्य Quotes on Friendship

दोस्तों के साथ हम अच्छा-ख़ासा समय बिताते हैं इसलिए ज़रूरी हो जाता है कि हम सही दोस्त का चुनाव करें. आज की पोस्ट में हम कुछ इसी विषय से जुड़े महत्वपूर्ण कथनों का के बारे में पढ़ते हैं. सच्ची मित्रता क्या होती है? सच्चे मित्र की विशेषताएं, सच्ची मित्रता की परिभाषा, मित्र का सही व्यवहार और कर्तव्य. मित्रता के बारे में महापुरुषों के अनमोल विचारों का संकलन. Friendship quotes in Hindi. Heart touching friendship quotes with images, friendship quotes wallpapers. Beautiful images of friendship and love, friendship images with quotes in Hindi, images of friendship forever.

मित्रता के बारे में सुंदर उद्धरण वाक्य
मित्रता के बारे में सुंदर उद्धरण वाक्य

 

अच्छे व्यक्तियों की मित्रता- Friendship of good persons

प्रकृति जानवरों को भी मित्र पहचानने की समझ देती है. मित्र का चुनाव हमें अच्छी तरह सोच समझ कर करना चाहिए. महाभारत में भी लिखा है- “हीन लोगों की संगति से अपनी भी बुद्धि हीन हो जाती है , समान लोगों के साथ रहने से समान बनी रहती है और विशिष्ट लोगों की संगति से विशिष्ट हो जाती है, इसका सीधा सा अर्थ यही है कि हम जिस प्रकार के लोगों की संगति करेंगे हमारी बुद्धि भी वैसी ही हो जाएगी. इसलिए हमें सदैव अपने मित्रों के प्रति सजग रहना चाहिए.

यह भी पढ़ें: दोस्ती शायरी

 

सच्चे मित्र की विशेषताएं- Qualities of a good friend

रामचरित मानस में प्रभु श्री राम और विभीषण जी की मित्रता तथा सुग्रीव जी की मित्रता के बारे में उल्लेख है. सच्चा मित्र कठिन्समी में अपने मित्र का भरपूर साथ देता है. अपने मित्र की आवश्यकता और जरूरतों का पूरा ध्यान रखता है. श्री कृष्ण और सुदामा जी की की मित्रता को सभी जानते हैं. गोस्वामी तुलसीदास जी ने भी राम चरित मानस में लिखा है- “शठ सुधरहिं सतसंगति पाई ।पारस परस कुधातु सुहाई”. अर्थात् अगर हमारे मित्र श्रेष्ठ तथा उच्च कुल के होंगे तो हम में भी वही आचरण तथा भाव आयेंगे. अतः हमें अच्छे तथा श्रेष्ठ मित्रों का ही चुनाव करना चाहिए.

सच्चे मित्र मित्र के दुःख से दुखी हो जाते हैं. रामचरित मानस में भी लिखा है-

जे न मित्र दुख होहिं दुखारी, तिन्हहि बिलोकत पातक भारी.
निज दुख गिरि सम रज करि जाना, मित्रक दुख रज मेरु समाना.
जो लोग मित्र के दुःख से दुःखी नहीं होते, उन्हें देखने से ही बड़ा पाप लगता है. अपने पर्वत के समान दुःख को धूल के समान और मित्र के धूल के समान दुःख को सुमेरु (बड़े भारी पर्वत) के समान जाने.

यह भी पढ़ें: हमारे तीन खास मित्र

 

मित्रता की परिभाषा- Definition of friendship

हमारे श्रेष्ठ ग्रथों में महापुरुषों ने मित्रता की परिभाषा के बारे में अलग-अलग लिखा है. “जो पाप से रोकता है, हित में जोडता है, गुप्त बात गुप्त रखता है, गुणों को प्रकट करता है, आपत्ति आनेपर छोडता नहीं, समय आने पर (जो आवश्यक हो) देता है – संत पुरुष इन्हीं को सच्चे मित्र के लक्षण कहते हैं.”

मित्रता मुस्कुराहट का नाम है. जब हमारा प्रिय मित्र हमें मिल जाता है तो ह्रदय प्रसन्न और मन गद्गद हो जाता है. मित्रता धैर्य का नाम है. मित्रता साहस का नाम है. मित्र ईमान का नाम है. मित्र मर्यादा है. मित्रता आत्मीयता का दशर्न है. मित्रता दो आत्माओं का मौन अनुबंध है. सच्ची मित्रता एक अनमोल धन है.

यह भी पढ़ें: दो दोस्तों की कहानी

 

मित्रता के बारे में सुंदर उद्धरण- Beautiful quotation about friendship

केवल उदार ह्रदय वाले ही सच्चे मित्र हो सकते हैं.

सच्ची मित्रता में कुशल वैद्य जैसी निपुणता और परख होती है.

एक सच्चा मित्र दो शारीर में एक आत्मा के समान है.

सच्चा प्रेम दुर्लभ है और सच्ची मित्रता और भी दुर्लभ है.

संपन्नता मित्र बनती है और विपदा उनकी परख करती है.

 

यह भी देखें:

Short Motivational Whatsapp Quotes in Hindi part-1

Short Motivational Whatsapp Quotes in Hindi part-2

मित्रता पर अनमोल वाक्य यू-ट्यूब

मित्रता के बारे में सुंदर उद्धरण यू-ट्यूब

 

Friends, मित्रता के बारे में उद्धरण वाक्य की ये पोस्ट आपको कैसी लगी हमें अवश्य बताये. आप अपनी राय comments के माध्यम से हम तक पहुंचा सकते हैं. हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा रहेगी. पसंद आने पर आप इसे अपने चाहने वालों और अपने Facebook Friends तक जरुर शेयर करें.

HindiSuccess के नए पोस्ट की जानकारी ई-मेल पर पायें

5 thoughts on “दोस्ती पर अनमोल विचार- Quotes About Friendship”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *