अक्षय तृतीया, Akshay Tratiya, Akshaya tritiya Shubhkamna

Wishes for Akshaya Tritiya in Hindi अक्षय तृतीया की शुभकामना

 

Akshay Tritiya. अक्षय तृतीया को हमारे यहाँ आखा तीज और अक्ती भी कहते हैं. अक्षय तृतीया वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाते हैं. पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी शुभ कार्य किये जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है. इसी कारण इसे अक्षय तृतीया कहा जाता है। वैसे तो सभी बारह महीनों की शुक्ल पक्षीय तृतीया शुभ होती है, किंतु वैशाख माह की तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है. वैशाख माह की इस तिथि  का पुराणों में विशेष महत्त्व है. Akshay Tritiya Wishes Happy Akshaya Tritiya 2018.  Akshay Tritiya Images, Quotes, Status and SMS . जानिये अक्षय तृतीया के बारे में.

 

अक्षय तृतीया, Akshay Tratiya, Akshaya tritiya Shubhkamna, Akshay Tritiya Wishes Happy Akshaya Tritiya 2018.  Akshay Tritiya Images, Quotes, Status and SMS . जानिये अक्षय तृतीया के बारे में.

 

अक्षय तृतीया हिन्दुओं के लिए बहुत ही पावन पर्व है. हिंदुओं के साथ-साथ जैन धर्म के लोग भी इस पर्व को बहुत मानते हैं. हिंदू धर्म में इस दिन भगवान् विष्णु जी तथा लक्ष्मी जी की पूजन का विशेष महत्व है.

 

Wishes Happy Akshaya Tritiya?

What is akshay tritiya?

Akshaya Tritiya, also known as Akti or Akha Teej, is annual spring time festival of the Hindus and Jains. It falls on the third Tithi of Bright Half of Vaisakha month.

According to Hindu culture & tradition, Akshay Tritiya is considered to be most significant day to initiate your sacred work.

अक्षय तृतीया 18 अप्रैल 2018 साल के सबसे शुभ दिन की शुभकामना

 

इस वर्ष 2018 में अक्षय तृतीया 18 अप्रैल को है. आप सभी को इस पुण्य और विशेष फलदायी तिथि की हार्दिक शुभकामनाएं. इस दिन को पूरे साल का सबसे शुभ दिन मानते हैं. इस दिन आप घर, वाहन, सोना, जमीन खरीद सकते हैं. इसे साल का बहुत ही शुभ मुहूर्त कहते हैं. बताया जाता है कि इस दिन किया गया जप, तप, हवन, स्वाध्याय और दान भी अक्षय हो जाता है. इन्हीं विशिष्ट प्रभावों के कारण इस तिथि को “अक्षय तृतीया” कहते हैं.

अक्ती की भांवर

अक्षय तृतीया वैशाख शुक्लपक्ष की तृतीया को अक्षय तृतीया, आखातीज, या आखा तृतीया कहते हैं. बुंदेलखंड के कुछ हिस्सों में इसे अक्ती भी कहते हैं. अक्ती की भांवर का विशेष महत्व है. यह दिन शादी ब्याह के लिए अत्यंत शुभ माना जाता है. देव मुहूर्त होने के कारण इस दिन गोधूलि बेला में पाणिग्रहण, भांवर की गांवों व शहरों में भरमार रहती है.

इस दिन दिए हुए दान और किए हुए स्नान, होम, जप आदि का फल अनन्त होता है. अर्थात् सभी शुभ कर्म अक्षय हो जाते हैं. इसी से इसका नाम ‘अक्षया’ हुआ है । ‘अक्षय’ का अर्थ है जिसका कभी नाश या क्षय न हो अर्थात् जो सदैव स्थायी रहे. आप सभी को इस तृतीया की बहुत-बहुत शुभकामनायें.

Akshaya Tritiya Akhta Teej Akti Quotes And Whatsapp Status  In Hindi. Akta Tij Tithi information Hindi.

Read Also Nice Thoughts: An Innovative Idea

Akshaya Tritiya Wednesday, 18 April 2018

भविष्य पुराण के अनुसार त्रेता युग का प्रारंभ भी इसी दिन हुआ था. इसी दिन बदरीनाथ धाम में नर-नारायण का अवतार हुआ था. सूर्य सिद्धांत ग्रंथ में ऐसा वर्णन है कि कृतिका नक्षत्र के प्रथम चरण में मेष राशि में सूर्य के होने पर सतयुग का प्रारंभ हुआ.

ज्योतिषविदों के अनुसार 18 अप्रैल को सूर्योदय के समय सूर्य मेष राशि में है. कृतिका नक्षत्र के प्रथम चरण में है और सूर्य मेष राशि में हैं. ऐसा संयोग सैकड़ों वर्ष बाद आता है। कृतिका नक्षत्र के प्रथम चरण में सूर्य मेष राशि में होने के कारण फलदायिनी योग बन रहा है.

अक्षय तृतीया दिन किये जाने वाले विशेष कार्य

इस दिन सोना खरीदना, जमीन खरीदना, गृह प्रवेश, नया व्यापार करना, तीर्थयात्रा बहुत ही शुभ माना है.

शुभ दिन शुभ घड़ी

कहते हैं इस दिन पंचांग देखने की जरुरत नहीं है. अक्षय तृतीया में हर घड़ी हर पल शुभ होता है.

कहते हैं इस दिन जिनका परिणय संस्कार होता है उनका सौभाग्य अखंड होता है.

एक बार फिर आप सब को अक्षय तृतीया पर्व की शुभकामनाएँ.

Happy Akshaya Tratiya Tithi for all of you.

 

HindiSuccess के नए पोस्ट की जानकारी ई-मेल पर पायें

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *