जॉयफुल लर्निंग क्या है?

जॉयफुल लर्निंग से शुरू होगा शिक्षा सत्र

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में शिक्षा सत्र 2018-19 दो अप्रैल से शुरू होगा। इस संबंध में राज्य शिक्षा केन्द्र ने शिक्षण सत्र 2018-19 को जॉयफुल लर्निंग से शुरू किये जाने के निर्देश दिए हैं.

सीखने को आनन्ददायी बनाने के लिए Joyful Learning कार्यक्रम

जॉयफुल लर्निंग गतिविधि, Joyful learning in Hindi, m p school education, Joyful learning Hindi, Joy ful learning programe, जॉयफुल लर्निंग इन हिंदी

शिक्षा सत्र की शुरुआत जॉयफुल लर्निंग से

Activities in Joyful Learning

 

जॉयफुल लर्निंग, Joyful learning

दो अप्रैल को शासकीय, प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में अनिवार्य रूप से बाल सभा का आयोजन.

बाल सभाओं में बालकों, शाला प्रबंधन समिति के सदस्यों, वरिष्ठ ग्रामीणजनों को आमंत्रित करना.

बाल सभा में गाँव के गौरव, लोक गीत और स्थानीय नाटकों की भी प्रस्तुति.

शाला प्रबंधन समिति की बैठक और मातृ सम्मेलन का आयोजन.

प्रत्येक छात्र को लर्निंग किट- किट में स्केच पेन, खाली पेपर शीट, रंगीन पेपर आदि होंगे.

मध्य प्रदेश एजुकेशन पोर्टल पर Joyful Learning Program से सम्बंधित पत्र को देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.

Joyful learning के संबंध में

M. P. State Education Portal पर शिक्षा सत्र 2018-19 में सीखने को आनन्ददायी बनाने के लिए कार्यक्रम Joyful Learning में प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में विशेष गतिविधियों से सत्र की शुरुआत होगी.

 

एजुकेशन News सरकारी स्कूलों में जॉयफुल लर्निंग से शुरू हुआ नया शिक्षण सत्र, लोकगीतों की भी हुई प्रस्तुति

 

जॉयफुल लर्निंग

 

 

म.प्र. एजुकेशन पोर्टल पर Joyful Learning se sambandhit jankari ke liye पीडीऍफ़ file में परिपत्र डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए

 

शिक्षा सत्र 2018-19 में सीखने को आनन्ददायी बनाने के लिए कार्यक्रम No – S. No 641-642

जॉयफुल लर्निंग कार्यक्रम की मॉनिटरिंग हेतु PDF पत्र

What is Joyful Learning Process

Our current short definition of joyful learning is, Engaging, empowering, and playful learning of meaningful content in a loving and supportive community. Through the joyful learning process a student is always improving knowledge of self and the world.

जॉयफुल लर्निंग स्कूल फ्लेक्स और वाल पेंटिंग

इस आकर्षक और नविन शिक्षण प्रक्रिया के लिए विद्यालय में सीखने-सिखाने के लिए वाल पेंटिंग करवाई जा सकती है. कम दाम में बहुत अच्छे फ्लेक्स भी बनवाए जा सकते हैं. अगर आप चाहते हैं कि आप का काम ज्यादा समय तक रहे तो आप Flex की बजाए खूबसूरत wall paintings करवा कर अपने स्कूल को सजा सकते हैं.

इस पेज पर फ्लेक्स का एक नमूना दिया गया है. इस फ्लेक्स से आसानी से यह पता चल जाता है कि इस विद्यालय में यह गतिविधि चल रही है.

 

मिडिल स्कूल जॉयफुल लर्निंग फ्लेक्स and वालपेपर

Useful activities in Joyful Learning

 

Find the Pleasure in Learning.

Music and Rhythm.

Give Students Choice to Creativity.

Let Students Create Things.

 

Features and subjects in Joyful Learning Process

 

There are so many features of this process. Many subjects may be include in this like- Joyful learning activities in mathematics, Science, English and Social Sciences.

Happy Points of Joyful Learning

A joyful classroom is an active, bright and cheerful place. Joyful learning is a way where students get the joy of learning. Engage in whole-class learning while assisting students who need personalized instruction.

 

 

जॉयफुल लर्निंग क्या है?

 

joyful learning

 

Sarkari Schoolo me shuru hui activity Joy Ful Learning Kya Hai? Joyful Learning meaning in Hindi. सीखने को आनंददायी बनाने के लिए आनंददायी अधिगम गतिविधियाँ जॉयफुल लर्निंग कहलाती हैं.

JOYFUL का अर्थ:  हर्षपूर्ण, हर्षित, खुश

We were thrilled at this opportunity because it indicated international recognition that the concept of joyful learning is indeed a viable theoretical idea. Formal definition of Joy

Meaning of Joy: Joy can be defined as an emotion evoked by well-being.

Joyful definition: Something that is joyful causes happiness and pleasure

जॉय फुल लर्निंग के लिए सुझावात्मक गतिविधियाँ

Joyful Learning Process is a Bundle of Activities to be Perform in Government Primary and Middle Schools.

 

जॉयफुल लर्निंग

सीखने में आनंद को खोजना.

संगीत और गीतों का उपयोग.

स्टूडेंट्स को रचनात्मकता के लिए अवसर प्रदान करना.

बच्चों को सीखने की सामग्री बनाने के लिए प्रोत्साहित करना.

 

सीखने सिखाने की प्रक्रिया को आनंदमयी तथा आसान बनाने के लिए शालेय शिक्षा विभाग ने अपने ख़ास-ख़ास कार्यालयों में SD Card में टीचिंग लर्निंग मटेरियल डाउनलोड करने की व्यवस्था की है. यहाँ पर शिक्षक अपने एस डी कार्ड में सामग्री डाउनलोड कर सकते हैं. इसका उपयोग कक्षाओं में बच्चों को सिखाने के लिए किया जाएगा.

 

टीचर पोर्टल पेज Teachers Help ख़ास शिक्षकों के लिए

 

एम शिक्षा मित्र एप्लीकेशन के बारे में अधिक जानकारी के लिए इस पोस्ट को देखें

एम-शिक्षा मित्र Mobile app