जीवन जीने के दो पहलू प्रेरक कहानी

जीवन के दो पहलू- प्रेरक कहानी

जीवन जीने के दो पहलू प्रेरणास्पद कहानी. किसी गाँव में बहुत सारे साधु रहते थे। सुबह से लेकर शयाम तक भिक्षा माँगकर अपना पेट भरते थे। लेकिन साधुओं के अंदर कुछ ना कुछ ऐसा जरूर होता है जो उन्हें आम इंसान से अलग करता है। ये जरूरी नहीं कि हर साधु के अंदर अलौकिक शक्तियां … Read more

HindiSuccess.com