न्याय पर अनमोल कथन (Justice Quotes)

 न्याय पर अनमोल कथन (Justice Quotes). आज हम न्याय पर सुविचार और अनमोल वचन (Justice Quotes Hindi) पढेंगे. अन्याय और सामाजिक शोषण के विरूद्ध जागरूकता समय की जरुरत है. अच्छा समाज तभी बनेगा जब हम सब अन्याय का विरोध करेंगे.

Justice quotes

उदार होने के पहले न्यायपूर्ण बनिये.

आज हम न्याय पर सुविचार और अनमोल वचन (Justice Quotes Hindi) पढेंगे.

किसी महान विचारक ने कहा है- न्याय पक्ष, मित्रता और रिश्तेदारी को अस्वीकार करता हैं और इसलिए उसका प्रतिनिधित्व एक अंधे व्यक्ति के रूप में किया जाता हैं.

 अनमोल विचारों की पूँजी

ईश्वरीय न्याय की चक्की यद्यपि मंद गति से चलती है, किन्तु चलती अवश्य है. -जार्ज हर्बर्ट.

Nyaya Par Anmol Kathan (Justice Quotes in Hindi).

हिंदीसक्सेस डाट काम की इस पोस्ट में Nyaya  Kathan (जस्टिस कोट्स) के बारे में दार्शनिकों के विचार को जानेगे.

Nyaya के बारे में बहुत से अनमोल कथन कहे गए हैं. जो व्यक्ति वही कहता है जो वह न्यायपूर्ण समझता है, अंत में ठीक वही प्राप्त करता है, जिसका वह अधिकारी होता हैं.

 

Nyaya Ke Bare Me Vicharakon Ke Kathan Aur Drishtikon

कहा गया है- हर अपराध का न्याय दो जगह होता हैं. प्रथम इंसान द्वारा बनाये गये अदालत में और दूसरा प्रकृति द्वारा बनाये गये अदालत में. यदि इंसानों की अदालत में न्याय नहीं मिल पाता हो तो प्रकृति की अदालत में निश्चित ही न्याय मिलता हैं.

प्रेरणादायक सुविचार (Part 4)

प्रेमचंद के अनमोल वचन

न्याय वह है जो कि दूध का दूध, पानी का पानी कर दे, यह नहीं कि खुद ही कागजों के धोखे में आ जाए, खुद ही पाखंडियों के जाल में फँस जाए. प्रेमचंद.

न्याय करना उतना कठिन नहीं है, जितना अन्याय का शमन करना. -प्रेमचंद.

Beautiful Quotes on Insaaf and Kanun

न्याय और नीति सब लक्ष्मी के दो खिलौने हैं, इन्हें वह जैसे चाहती है नचाती है. -प्रेमचंद.

Quotes on Insaaf and Kanun

न्याय वह है जो कि दूध, पानी का पानी कर दे, यह नहीं कि खुद ही कागजों के धोखो में आ जाए, खुद ही पाखंडियों के जाल में फँस जाए. प्रेमचंद.

प्रेरणादायक सुविचार (पार्ट-5)

Great Thoughts on Justice

न्याय में देर करना न्याय को अस्वीकार करना है.

-ग्लेडस्टोन.

Nyaya Kya hai?

सच्चाई का कार्य में बदल जाना न्याय है. -डीजरायली.


अच्छा निर्णय

कोई भी अच्छा निर्णय जानकारियो पर निर्भर करता है. आंकड़ों या संख्याओ पर नहीं. -प्लेटो.

न्याय पर महापुरूषों के अनमोल विचार

पिता की सेवा अथवा उनकी आज्ञा का पालन करने से बढ़कर और कोई धर्माचरण नहीं है.-वाल्मीकि.

देश का न्यायिक सिस्टम

हर समाज देश का अपना न्यायिक सिस्टम होता है जिसके द्वारा नागरिकों को न्याय दिलाने का कार्य किया जाता हैं. असल में न्याय की रक्षा कर पाने की क्षमता ही न्याय है.

 

Nyaya ke naam par Quotes

हम प्यार का दरिया बहा सकते हैं पर न्याय के नाम पर नानी मर जाती है. -रस्किन.

महात्मा गांधी के अनमोल वचन

कमजोर कभी माफ़ी नहीं मांगते. क्षमा करना तो ताकतवर व्यक्ति की विशेषता है.

-महात्मा गांधी.

Short motivational whatsapp quotes in Hindi

धर्म और न्याय पर भारतीय विचारकों के विचार

तात ! मेरे विचार से प्राणियों की हिंसा न करना ही सबसे श्रेष्ठ धर्म है.किसी की प्राण-रक्षा के लिए झूठ बोलना पड़े तो बोल दे, किन्तु उसकी हिंसा किसी तरह न होने दे.

-वेदव्यास

उदार होने के पहले न्यायपूर्ण बनिये. न्याय पर सुविचार और अनमोल वचन (Justice Quotes Hindi)

सामाजिक न्याय पर अम्बेडकर के विचार

“We must stand on our own feet and fight as best as we can for our rights. So carry on your agitation and organize your forces. Power and prestige will come to you through struggle”.

Swatantrata aur Kanun Par Dr. Bhimrao Ambedkar Ke Anmol kathan

जब तक आप सामाजिक स्वतंत्रता हासिल नहीं कर लेते,

तब तक आपको कानून चाहे जो भी स्वतंत्रता देता है,

वह आपके किसी काम की नहीं होती.

Nyaya Quotes: बात पते की

आईजक दिसराली ने कहा है कि बुद्धिमानो की बुद्धिमता और बरसों का अनुभव सुभाषितों में संग्रह किया जा सकता है. अतः ये अनमोल वचन किसी बात को समझने के लिए बहुत काम के है. आप अपने विचार भी हम तक साझा कर सकते हैं.

Thanks For Visiting This Website. You can share this with your friends.

प्रकृति की अदालत में भी इन्साफ होता है

इस संसार में हर अपराध का न्याय दो जगह होता हैं. पहला मनुष्य द्वारा बनाई हुई अदालतों में  में और दूसरा प्रकृति की अदालत में. ऐसा विश्वास किया जाता है कि किसी भी व्यक्ति को इस दुनिया की की अदालत में न्याय नहीं मिल पाता हो तो प्रकृति की अदालत में निश्चित ही न्याय मिलता हैं.

हमारे समाज और शासन  द्वारा बनाई गई न्याय व्यवस्था एक जटिल प्रक्रिया हैं जिसके कारण कई बार अन्याय करने वाले अपने शक्ति का गलत प्रयोग करके बच जाते हैं. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ऐसे लोग हमेशा के लिए अपने गलत कर्मों के परिणाम से बच जाते हैं. उन्हें इसके बाद कुदरत की अदालत के फैसले के लिए भी तैयार रहना चाहिए. भगवान के न्याय ( ईश्वरीय न्याय ) की प्रक्रिया थोड़ी धीरे चलती हैं, किन्तु चलती अवश्य है.हमेशा बुरे कर्मों से बचना चाहिए क्योंकि अन्याय का फल अवश्य मिलता है.

दुनिया की सर्वोच्च शक्ति न्याय कैसे करती है

न्याय की शक्ति को दुनिया की सर्वोच्च शक्ति माना जाता हैं. मनुष्य को अपने कर्मों के अनुसार ईश्वर उसका फल देते हैं. बुरे कर्मों से डर ऐसा मानसिक करक है जो इस समाज में अन्याय और अपराधों को रोकने में सदैव कारगर रहा है. अगर हर इन्सान अपने बुरे कर्मों के फल से डरने लगे तो इस धरती पर अपराध बिलकुल ही ख़त्म हो जाएँ. कई बार गरीब व्यक्तियों को न्याय नहीं मिल पाता हैं तब उनका न्याय ईश्वर करते हैं. ईश्वर सब देखते हैं वह हमारे कर्मों के अनुसार ही हमे सुख और दुःख देते हैं. ईश्वर के न्याय में देरी भले ही हो सकती है लेकिन ईश्वर अन्याय करने वालों को उचित दंड अवश्य देते हैं.

इस पोस्ट पर आप की प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा रहेगी.

Hindisuccess.com

भारत की लोकप्रिय हिंदी वेबसाइट.

हिन्दी में जनकारियों का भंडार समृद्ध करने के लिए यह वेबसाइट समर्पित है. We promote content in Hindi. HSC Welcomes the Hindi contents.

सफलता के मूलमंत्र और कामयाब बिजनिस के सिद्धांत. आधुनिक युग की बैंकिंग सेक्टर की जानकारी एयरटेल पेमेंट बैंक के फायदे. आधार कार्ड की जानकारी सहित कई फायदे मंद जानकारियाँ पढिए हिन्दी सक्सेस डाट काम पर.

Nyaya (न्याय) पर सुविचार अनमोल वचन. न्याय पक्ष, मित्रता और रिश्तेदारी को अस्वीकार करता हैं इसलिए उसका प्रतिनिधित्व एक अंधे व्यक्ति के रूप में किया जाता हैं.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ