सुबह जल्दी उठने के फायदे

 सुबह उठने के फायदे, सुबह उठने की आदत कैसे डालें

Awesome benifits of early rising in morning


सुबह जल्दी उठने के फायदे, सुबह उठने की आदत कैसे डालें?

कहा जाता है कि स्वास्थ्य ही सबसे बड़ा धन है, अच्छा स्वास्थ्य किसे पसंद नहीं है, लेकिन हम रोज ऐसी कुछ न कुछ गलतियाँ करते है जिससे हमारे शरीर को नुकसान होता है।

और खास बात यह है कि इसके बारे में किसी को पता भी नहीं होता है कि लोग अपने शरीर के साथ खुद के साथ क्या गलत कर रहे है।

अगर उन तमाम गलतियों में से एक गलती की बात करें तो वह है सुबह देर से उठना, यूं तो अपने शरीर में आये किसी भी प्रॉब्लम को हर करने के लिए हमारे पास बहुत से ऑप्शन है।

लेकिन सुबह उठकर 30 मिनट तक भी की गयी एक्सरसाइज़ आपको बहुत फायदे दे सकती है, जिसके बारे में हो सकता है आपने अभी सोचा न हो।

बेनिफिट्स ऑफ़ अर्ली राइजिंग इन मॉर्निंग

Hello Friends, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग HindiSuccess पर आज हम बात करने जा रहे है, सुबह जल्दी उठने के फायदे के बारे में सुबह उठने के क्या-क्या फायदे है, दिन की शुरुआत कैसे करें, सुबह उठने की आदत कैसे डालें, जानेंगे इन सारी चीजों के बारे में उम्मीद करता हूँ आपको यह पसंद आएगा।

वैसे तो हमें प्रकृति किसी भी रूप में हो अच्छी लगती है लेकिन जब हमें खुद को प्रकृति के अनुसार चलने की बात हो तो ये आमतौर पर लोगों से संभव नहीं होता है।

सुबह जल्दी उठने के फायदे? -

  1. सुबह उठकर एक्सरसाइज़ करने से आप स्वस्थ रहते है, जो भी व्यक्ति सुबह व्यायाम करते है जो व्यायाम नहीं करते आपको दोनों में फरक साफ दिखेगा, सुबह उठकर एक्सरसाइज़ करने से आपको पूरे दिन थकान नहीं लगती है।
  2. अगर आप चाहते है कि पूरे दिन का कोई भी काम न छूटे या schedule से न अलग हो तो इसके लिए सुबह उठने की आदत और कोई भी तीन काम हर रोज एक ही नियत समय पर करने की आदत डालें। एक बार जब हमारा सुबह का रूटीन बन जाता है तो हमारे पूरे दिन का एक बेहतर रूटीन बन जाता है, और हम बेहतर ढंग से काम कर पाते है। ऐसा करने से आप पूरे दिन किसी काम को करने की आदत बनाने लगते है और कोई भी काम समय से लेट नहीं होता।
  3. सुबह जल्दी उठने के फायदे: शरीर में आलस नहीं रहती.... जर्मनी के यूनिवर्सिटी ऑफ एजुकेशन के हीडलबर्ग में जीवविज्ञान के प्रोफेसर क्रिस्टोफर रैंडलर का कहना है कि सुबह जल्दी उठना मस्तिष्क के कार्य करने की क्षमता को बढ़ाता है।
  4. रोज सुबह उठने वाले व्यक्तियों में सोचने की क्षमता और समस्या को सुलझाने की कला बेहतर होती है। ऐसे लोग ज्यादा रचनात्मक होते हैं, इनकी एकाग्रता और मेमोरी भी बेहतर होती है।
  5. सुबह जल्दी उठने से शरीर की सम्पूर्ण कार्य प्रणाली सुचारु रूप से कार्य करती रहती है, आप खुद देखेंगे कि एक्सरसाइज़ करने से पहले हम छोटे-मोटे घाव या मोच के कारण बहुत परेशान रहते है लेकिन रेगुलर एक्सरसाइज़ करते रहने से ऐसी कोई समस्या नहीं आती है।
  6. प्रातः सूर्योदय के पूर्व जागने के शारीरिक और मानसिक रूप से कई लाभ हैं. केवल इतना ही नहीं शरीर में किसी भी प्रकार की चोट चाहे वह आंतरिक हो या बाह्य सभी प्रकार की टूट-फूट की रिकवरी बहुत तेजी से होती है।
  7. अगर आप चाहते है कि आप अपनी उम्र से जवां दिखें तो संतुलित आहार के बाद एक्सरसाइज़ ही इसका दूसरा सबसे अच्छा तरीका है।
  8. एक्सरसाइज़ आपके शरीर की बढ़ती हुई उम्र को रोक देता है और यह यदि रेगुलर किया जाए तो आपकी त्वचा को उसके सबसे नेचुरल अवस्था में रखता है। 
  9. सुबह उठने से आप अपने काम को बेहतर ढंग से नियमित और समय पर पूरा कर पाएंगे, इसके पीछे का कारण यह है कि सुबह यदि हम किसी काम को रोजाना उसी टाइम पर करते है तो बाकी के दिन में भी हम किसी भी काम को समय पर पूरा करने की कोशिश करते है।
  10. सुबह के शुरुआती घंटे में हवा एकदम स्वच्छ रहती है इस समय हवा में ज्यादा ऑक्सीजन होती है, सुबह ताजी हवा और शांत वातावरण हमें प्राकृतिक पोषण प्रदान करते हैं, जल्दी उठकर आप अपनी बालकनी में योग या आस-पास के पार्क में टहलने जैसी आसान आदत से इसकी शुरुआत कर सकते हैं।
  11. सुबह जल्दी उठने के फ़ायदे में एक बड़ा फायदा यह होता है कि आपको आराम से नाश्ता करने का भरपूर समय मिलता है और नाश्ता कभी काम के दबाव के कारण नहीं छूटता, डॉक्टर एक बात हमेशा कहते हैं कि स्वस्थ रहना है तो भले थोड़ा ही खाओ लेकिन जरूर समय से सुबह के समय नाश्ता कर लें। इसके साथ ही सुबह जल्‍दी जगने से कुदरती शांत‍ि महसूस कर सकेंगे और इस शांति के दो फायदे है - एक तो भागदौड़ के तनाव से थोड़ा बचेंगे और दूसरा आपकी कंसेंट्रेशन पावर यानि एकाग्रता के शक्ति भी बढ़ेगी।
  12. सुबह उठ कर टहलना एक बहुत ही फायदेमंद क्रिया है, शुरूआत में आपको इससे उतना लाभ नही मिलेगा और ऐसा भी हो सकता है कि आपको पूरे दिन थकान हो, दर्द का अनुभव करें, यदि आप इसको अपनी आदत बन लेते हैं, तो इसके बहुत कमाल के फायदे है।
  13. यह पूरे दिन तरोताजा रहने में मदद करता है, सुबह टहलना आपके हृदय के लिए जरूरी है इससे हृदय की बीमारी दूर रहती हैं, जब ये आपकी आदत बन जाती है तब आप इसके कारण अपने काम को ज्यादा बेहतर ढंग से कर पाने में सक्षम होते है।
  14. रोज सुबह-सुबह टहलना आपके मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में मदद है, इससे आपके दिमाग मे एक केमिकल (बी.डी.एन.एफ) निकलता है जो ध्यान (एकाग्रता) की शक्ति को बढ़ाता है।


दोस्तों यह तो बात हुई subah jaldi uthne ke fayde की. अगर आप सूर्योदय से पहले उठने के फायदे एक बार जान लेंगे तो निश्चित ही आप सुबह 4:00 या 5:00 बजे उठना चाहेंगे. तो आपने देखा कि सुबह जल्दी उठने के फायदे कितने सारे है और देखा जाए तो यह सबसे आसान काम है लेकिन उतना ही मुश्किल है। 

यह आर्टिकल भी पढ़ें -

Hindi Me Application Kaise Likhe? एप्लीकेशन कैसे लिखते है?

सेना में अनुशासन -

सेना में जवानों को दिन भर की शारीरिक क्रियाएं करनी पड़ती है, लेकिन क्या आप जानते है कि वहाँ पर सुबह उठते ही अपने बिस्तर को समेटने की आदत लगाई जाती है क्योंकि यदि व्यक्ति सुबह के समय किसी तीन कामों को नियम से करता है तो उसका बाकी का दिन भी एक नियम से बीतता है।

हो सकता है कि आपको यह छोटी सी बात लगे लेकिन सेना में इसके लिए कड़े नियम है, जो भी जवान इसको नहीं मानता है उसे कठोर दंड दिए जाते है।

अगर इसको ध्यान से समझें तो ये भी मतलब हो सकता है जो व्यक्ति सुबह अपने बिस्तर को सही से नहीं समेट सकता है वो बड़ी जिम्मेदारियों को कैसे समय पर पूरा कर पाएगा।

वैसे तो हम कह सकते हैं कि हर चीज़ से कुछ न कुछ फायदा और नुकसान होता है, हर धागे के 2 छोर होते हैं, लेकिन सुबह की सैर और व्यायाम ऐसी क्रिया है जिससे कोई नुकसान नहीं है।


सुबह जल्दी कैसे उठें? -

ये तो सारी बातें हो गयी कि सुबह जल्दी उठने के फायदे है कितने सारे है और इससे हमारे जीवन में क्या बदलाव देखने को मिलते है।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर सुबह कैसे उठें? ताकि हम इन सारी चीजों का लाभ ले सकें।

क्योंकि आज के समय में अधिकतर लोग ऐसे है जिनको कहीं क कहीं ये अवश्य जानकारी है कि सुबह उठने के क्या फायदे है, लेकिन फिर भी लोग इसे नहीं कर पाते है।


जल्दी उठने के लिए इन चीजों का ध्यान रखें


  1. सुबह जल्दी उठने के फायदे कितने सारे है इसके बारे में हमने जाना लेकिन यह लाभ लेने के लिए रात में जल्दी सोना भी जरूरी है, क्योंकि जब आप जल्दी नहीं सोते है तो हमारी नींद की जो टाइमिंग है वह समय के साथ आगे बढ़ जाती है, मतलब कि आप जितने देर सोते है सुबह उठने का समय उतना ही आगे बढ़ जाता है।
  2. कोशिश करें कि आप रात के 10 बजे तक सोने के लिए बिस्तर पर चले जायें और इस दौरान आप किसी भी इलेक्ट्रॉनिक चीज का प्रयोग न करें। यदि आप किताब पढ़ते है तो ठीक है क्योंकि अक्सर हमें किताब पढ़ते-पढ़ते नींद आ जाती है यह हमारी नींद में बाधक नहीं होता है। इलेक्ट्रॉनिक गैजेट के कारण हमारी आँखों पर रोशनी पड़ती रहती है जिसके कारण हमारा मस्तिष्क सोने के लिए तैयार नहीं होता है, इसलिए यह जरूरी है कि आप इस नियम का जरूर पालन करें।
  3. भरपूर नींद लें एक स्वस्थ्य शरीर के लिए सात से आठ घंटे सोना भी बहुत जरूरी है, यदि आप इतना सोते है तो यह एक सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन यदि आप इससे कम सोते है तो कई बार यह उम्र या चिंता के कारण या अन्य कारण हो सकते है लेकिन यदि आप इससे ज्यादा सोते है तो आप एक आलसी व्यक्ति के रूप में गिने जा सकते है।
  4. अपने शरीर से काम लीजिए, दिन भर नहीं तो पूरे दिन में काभी भी कोई ऐसा कार्य जरूर करें जिससे कि आपके शरीर को थकावट हो।
  5. अगर अप सुबह एक्सरसाइज़ करते है तो आपको ऐसा कोई भी काम करने की जरूरत नहीं है, थकान हमारे शरीर को बिस्तर पर बहुत जल्दी रिलैक्स और इसका इतना फायदा है कि लेटने के बाद तुंरत नींद आ जाती है।
  6. तो यदि आपको नींद न आने की समस्या है तो इस चीज पर विचार जरूर करें और इसे अपने दिनचर्या में शामिल करें।
  7. बिस्तर पर जाते समय सोने से पहले सुबह उठने का दृढ़ निश्चय करना चाहिए, शुरू में दो या तीन दिन ही तकलीफ होती है, उसके बाद आप अपने आप ही सुबह जल्दी उठ जाएंगे।
  8. आपके दिमाग में यह बात होनी चाहिए कि मुझे सुबह जल्दी उठना है, खुद से ये वादा करें और सुबह उठने के बाद जो भी काम करना है, उसकी जवाबदारी महसूस/निश्चित करें।
  9. एक दो दिन तक आपको ऐसा करने में समस्या आएगी लेकिन कुछ ही दिनों में आपकी नींद अपने आप सुबह जल्दी खुल जाएगी, लेकिन नींद खुलने के बाद तुंरत बिस्तर छोड़ देना चाहिए।
  10. बिस्तर छोड़ते ही वापस से अपने रजाई, तकिये को समेटकर सही स्थान पर रखें, दिन के किसी भी टास्क में से यह आपका पहला टास्क होना चाहिए।


जल्दी उठने के लिए अलार्म का प्रयोग करें -

शुरुआत में किसी भी रूटीन को बनाने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, ऐसा इसलिए होता है कि हमार शरीर उन बदलावों को स्वीकार नहीं करता है।

सुबह उठने के लिए शुरुआत में समस्या आती है तो इसके लिए अलार्म का प्रयोग कर सकते है, इसके बाद जब शरीर एक नए रूटीन को फॉलो करने लगता है तो आप अपने आप उसी समय पर जाग जाते है।

आज के समय में ऐसे अलार्म एप्स आते है जिन्हें बंद करने के लिए उसमें आपके द्वारा सेट किये गए टास्क को पूरा करना होता है, तभी वह बंद होता है।

इसके पीछे का कारण यह है कि जब आपका दिमाग एक्टिव हो जाता है तो उसके बाद नींद अपने आप खत्म हो जाती है, नीचे इस विडिओ को देखकर सबसे अलग अलार्म एप को इंस्टॉल कर सकते है।


Summary of Article -

तो दोस्तों अब आप अपने डेली शेड्यूल में इसे कब शामिल कर रहे है, सुबह जल्दी उठने के फायदे के बारे में आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें जरूर बताएं नीचे कमेन्ट बॉक्स में और यदि आपके पास इस टॉपिक से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव हो तो उसे भी लिखना न भूलें।


About The Author -

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम Rakesh Kumar Sawant है, मैं TechEnter.in का Founder हूँ... टेक्नोलॉजी, टिप्स और ट्रिक्स, सोशल मीडिया, लाइफस्टाइल, योजना, पैसे कमाने के तरीके के बारे में रोज कुछ नया सीखने के लिए हमारे ब्लॉग को विज़िट करें।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ